30 जून तक के लिए बढ़ गया लॉकडाउन, जानिए इस बार क्या खुलेगा और क्या बंद रहेगा!

0
26

कोरोनावायरस फैलने के कारण देश में लम्बे समय से लॉकडाउन लगा हुआ है। देश में लॉकडाउन लगे 2 महीने से ज़्यादा हो चुके हैं। देश में लॉकडाउन का चौथा चरण ख़त्म हो गया है। केंद्र सरकार ने मौजूदा स्थिति को देखते हुए लॉकडाउन को एक महीने के लिए बढ़ा दिया है। लॉकडाउन का पांचवा चरण 1 जून से 30 तक लागू रहेगा। इस बार लॉकडाउन के नियमो में काफी बदलाव किये गए हैं। सरकार ने काफी कुछ खोलने की अनुमति दी है।

पिछली बार जब सरकार ने लॉकडाउन का चौथा चरण लागू किया था तो उसके साथ काफी रियायते भी दी थी। इस बार पांचवे चरण में लोगों को और भी ज़्यादा रियायते दी गयी हैं। लॉकडाउन के साथ ही सरकार ने अनलॉक 1.0 भी जारी किया है। अनलॉक 1.0 के ज़रिये सरकार योजनाबद्ध तरीके से सेवाओं को खोलेगी। लम्बे समय से बंद काम-कारोबार की वजह से देश की अर्थव्यवस्था पर फर्क पड़ रहा है। इसीलिए अब सरकार धीरे-धीरे लॉकडाउन को ख़त्म कर रही है।

इस बार क्या खुलेगा और क्या बंद रहेगा?

रात में लगने वाले कर्फ्यू में सरकार ने बदलाव किया है। जो कर्फ्यू पहले शाम 7 बजे से सुबह 7 बजे तक के लिए लगता था अब वो रात 9 बजे से सुबह 5 बजे तक के लिए लगा करेगा। इसके साथ ही इस बार सभी धर्मो के धार्मिक स्थल भी खोल दिये जायेंगे. केंद्र सरकार की तरफ से धार्मिक स्थलों को खोलने की अनुमति दे दी गयी है। अब ये राज्य सरकार के ऊपर है स्थिति के अनुसार धार्मिक स्थलों को खोलने की अनुमति दे।

होटल, रेस्टोरेंट, शॉपिंग मॉल और सलून को खोलने की अनुमति दे दी गयी है। ये सभी सेवाएं सोशल डिस्टैन्सिंग का ख्याल रखते हुए खोली जाएँगी। कन्टेनमेंट ज़ोन ने ये सेवाएं बंद रहेंगी। एक जगह से दूसरी जगह जाने के लिए अब पास बनवाने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी। लोग एक ज़िले से दूसरे ज़िले व एक राज्य से दूसरे राज्य बिना पास के जा सकेंगे। केंद्र ने मेट्रो और बस सेवाओं से प्रतिबन्ध हटा लिया है। अब राज्य सरकार अपनी मर्ज़ी से इन सेवाओं को शुरू कर सकती है।

स्कूल व अन्य शिक्षण संसथान खोलने का फैसला केंद्र सरकार ने राज्य सरकार पर छोड़ा है। राज्य सरकारे सोच विचार करके जुलाई में अपना फैसला लेगी। जुलाई से पहले शिक्षण संसथान खुलना मुश्किल है। इसके आलावा सिनेमा हॉल, जिम, इंटरनेशनल फ्लाइट, स्विमिंग पूल, बार, थिएटर, पार्क, धार्मिक कार्यक्रम व खेल आदि पर रोक लगी रहेगी। महीने के अंत में इन सेवाओं को खोलने का विचार किया जाएगा। ये उस समय के हालात पर निर्भर करेगा।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here