BJP नेता के पिता की कोरोना से मौत, पंडितो ने हाथ लगाने से भी मना किया!

कोरोनावायरस के कारण आम इंसान का जीवन अस्त व्यस्त हो गया है। दुनिया में लाखों लोग इस महामारी के कारण अपनी जान गंवा चुके हैं। करोड़ो लोग बेरोज़गार हो कर घर बैठे हुए हैं। हज़ारो लोग भूख के कारण अपनी जान गंवा चुके हैं। आए दिन हम कोरोना से जुड़ा कोई नया किस्सा सुनते हैं। ताज़ा मामला उत्तर प्रदेश के मेरठ का सुनने में आया है। खबर है कि ज़िले के स्थानीय बीजेपी नेता के पिता की कोरोना के कारण मौत हो गयी और पंडितो ने अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया।

मेरठ के स्थानीय बीजेपी नेता विभांशु वशिष्ठ के पिता की कोरोना से संक्रमण के चलते मौत हो गयी। बीजेपी नेता अपने पिता की लाश लेकर सूरजकुंड के शमशान लेकर पहुंचे थे। लेकिन वहां उन्हें पंडितो के कठोर विरोध का सामना करना पड़ा। पंडितो ने अपनी सुरक्षा के चलते अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया। दोनों पक्षों के बीच इस सब को लेकर थोड़ा तनाव भी हो गया।

मामले की गंभीरता को समझते हुए पुलिस मोके पर पहुंची। पुलिस ने पंडितो से बात की तो पंडितो ने बताया कि उनके पास खुद की सुरक्षा करने के लिए न तो मास्क है और किसी भी प्रकार का सेनिटाइज़र। अपनी सुरक्षा का हवाला देते हुए पंडितो ने पुलिस को साफ़ बोल दिया कि वे इस बॉडी का अंतिम संस्कार नहीं करेंगे। पुलिस ने पंडितो को काफी समझाया लेकिन वे नहीं माने।

आखिरकार हार कर घर वालो को ही बॉडी का अंतिम संस्कार करना पड़ा। पुलिस के बहुत ज़्यादा मिन्नत करने व समझाने पर दो पंडितो ने दूर से ही मंत्रो का उच्चारण किया। और तब जा कर ये अंतिम संस्कार संपन्न हो पाया।

Facebook Comments
Mohd Aarish:
Leave a Comment