डोनाल्ड ट्रम्प ने बताया चीन का डेटा फर्जी, बोले चीन में अमेरिका से ज़्यादा लोगों ने जान गंवाई!

0
106
trump and jinping

चीन के वुहान से फैला कोरोनावायरस दुनिया भर में तबाही मचा रहा है। लाखों लोग इस वायरस की चपेट में हैं जबकि 1,50,000 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। शुरुआत में सबसे ज़्यादा मरने वालो की संख्या इटली में थी। लोग आश्चर्य में थे कि जहाँ से ये वायरस फैला, वहां मौतों का आंकड़ा इटली से बहुत ज़्यादा कम था। चीन के इन आंकड़ों पर लोगों को शुरुआत से ही शक होने लगा था। धीरे धीरे कई देशों के मौत के आंकड़े चीन से बहुत ज़्यादा आगे निकल गए जिससे चीन पर और ज़्यादा शक होने लगा।

चीन में मौत के आंकड़े 3000 पर आकर रुक गए, जबकि दूसरे देश 10,000 का आंकड़ा पार कर चुके थे। तो क्या चीन ने दुनिया से झूठ बोला? क्या चीन ने अपने मौत के आंकड़े छुपाये? और अगर ऐसा है तो चीन ने ऐसा क्यों किया? ये सभी सवाल लोगों के मन में आने लगे।

क्या बोले डोनाल्ड ट्रम्प?

डोनाल्ड ट्रम्प ने ट्वीट करके चीन के डेटा को फर्जी बताया है। दरअसल चीन ने मरने वालो की संख्या में अचानक वृद्धि की है। अब चीन ने मरने वालो की संख्या लगभग 4,700 तक पंहुचा दी है। इसी को लेकर डोनाल्ड ट्रम्प ने ट्वीट करके कहा कि,”चीन ने कोरोना से मरने वालो की संख्या को अचानक से डबल कर दिया है। असल में ये इससे कहीं ज़्यादा है। अमेरिका से बहुत ज़्यादा है, उसके आस पास भी नहीं है।” ट्रम्प का ये ट्वीट आने के बाद इस खबर को फिर से हवा मिल गयी है। सभी को शक है कि चीन ने मरने वालो की संख्या गलत दिखाई है।

अमेरिका में सबसे ज़्यादा मौते!

हाल ही में सभी देशों को पीछे छोड़ कर अमेरिका सबसे आगे निकल गया है। अमेरिका में मरने वालो की संख्या इस समय लगभग 37,000 हो गयी है जो चीन के 4,700 के सामने बहुत बड़ा आंकड़ा है। अमेरिका में मौतों और संक्रमितों का आंकड़ा बहुत तेज़ी से बढ़ रहा है। अनुमान लगाया जा रहा है कि जल्दी ही ये आंकड़ा 50,000 तक पहुँच सकता है।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here