दिल्ली: मुख्यमंत्री केजरीवाल ने जारी किये नए दिशानिर्देश, जानिए दिल्ली में क्या खुलेगा और क्या बंद रहेगा?

0
44

कोरोनावायरस के कारण लगे लम्बे लॉकडाउन का चौथा चरण शुरू हो चुका है। कोरोना के बढ़ते हुए प्रकोप को देखते हुए केंद्र सरकार ने देश भर में लॉकडाउन को 31 मई तक के लिए बढ़ा दिया है। इस बार लॉकडाउन के नियमो में थोड़ा बदलाव किया गया है। इन्ही बदलावों को ध्यान में रखते हुए सभी राज्य सरकारे अपने राज्य में नए दिशानिर्देश जारी कर रही हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने भी लॉकडाउन 4.0 के लिए नए दिशानिर्देश जारी किये हैं।

अरविन्द केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके ये नए दिशानिर्देश जारी किये हैं। केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि कोरोना इतनी आसानी से खत्म नहीं होगा। जब तक इसकी वैक्सीन नहीं आ जाती तब तक ये ख़त्म नहीं हो सकता है। हमे कोरोना के साथ जीना सीखना होगा। इन्ही सब बातों को ध्यान में रखते हुए लॉकडाउन 4.0 के नियम बनाये गए हैं।

लॉकडाउन 4.0 में क्या खुलेगा?

इस बार लॉकडाउन में दिल्ली के सभी प्राइवेट और सरकारी दफ्तर खोले जायेंगे। हालाँकि प्राइवेट दफ्तरों को जितना ज़्यादा हो सके घर से काम करवाने की कोशिश करनी है। इसके साथ ही खेल के लिए स्टेडियम भी खुलेंगे लेकिन स्टेडियम में दर्शकों की एंट्री नहीं होगी। ऑटो रिक्शा व इ-रिक्शा में एक यात्री के साथ चलने की अनुमति दी गयी है। टैक्सी व कैब में दो यात्री सफर कर सकेंगे।

दिल्ली के अंदर लोकल बस सर्विस भी शुरू की जाएगी लेकिन एक बस में सिर्फ 20 यात्री ही एक समय में बैठ पाएंगे। बस में बैठने से पहले यात्रियों को स्क्रीनिंग भी करवानी होगी। चार पहिया वाहन में 2 यात्री और दुपहिया वाहन पर 1 यात्री यात्रा कर पाएंगे। ओड इवन नियम के अनुसार आवश्यक सामान की दुकाने खोली जा सकेंगी। दुकानों पर सोशल डिस्टैन्सिंग का ध्यान रखना अनिवार्य होगा।

इन चीज़ो पर पाबन्दी जारी रहेगी

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने बताया कि राजधानी दिल्ली में सभी शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे। इसके साथ ही सिनेमा हॉल, शॉपिंग मॉल, स्विमिंग पूल, पार्क, सलून, ब्यूटी पार्लर, बार, डिस्को सभी बंद रहेंगे। सभी धर्मो के धार्मिक स्थल भी 31 मई तक बंद रहेंगे। दिल्ली की धड़कन मेट्रो रेल सेवा भी बंद रहेगी। सभी एयरलाइन्स पर भी पाबंदी जारी रहेगी।

गौर करने वाली बात ये है कि कन्टेनमेंट ज़ोन में किसी भी प्रकार की गतिविधि की अनुमति नहीं दी जाएगी। इसके साथ ही शाम 7 बजे से सुबह 7 बजे तक किसी भी व्यक्ति को बिना वजह बाहर जानें की अनुमति नहीं होगी। यदि कोई व्यक्ति ऐसा करता है तो उस पर उचित कार्यवाही की जाएगी। शादी समारोह में 50 लोग और अंतिम संस्कार में 20 लोग शामिल हो सकेंगे। बच्चो और बूढ़ो के बाहर निकलने पर भी पाबंदी जारी रहेगी।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here