एक शिक्षक को ऑनलाइन पढ़ाई पड़ गयी महंगी, लुटेरों ने लूट लिए 8 लाख रूपये!

0
28

जैसा की हम सब जानते हैं कि कोरोनावायरस फैलने के कारण हमारे देश में लम्बे समय से लॉकडाउन चल रहा है। लॉकडाउन के कारण देश भर में सभी स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटी व अन्य शिक्षण संसथान बंद हैं। ऐसे में सभी स्कूल व कॉलेज के शिक्षक ऑनलाइन क्लासेस के ज़रिये पढ़ाई करवा रहे हैं। लेकिन ये ऑनलाइन पढ़ाई एक शिक्षक को बहुत महंगी पड़ गयी। लूटेरो ने शिक्षक के खाते से 8 लाख रूपये उड़ा दिये।

मामला उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ का है। दरअसल हेंगाईपुर इलाके में हरिवंश लाल श्रीवास्तव नाम के एक शख्स प्राइमरी स्कूल के टीचर हैं। अपने बच्चे को ऑनलाइन पढ़ाई करने के लिए श्रीवास्तव जी ने अपना फ़ोन दे दिया। श्रीवास्तव जी को अपना फ़ोन देना भारी पड़ गया। बच्चा पढ़ाई के साथ साथ मोबाइल में ऑनलाइन गेम भी खेलने लगा। वहीं से कुछ साइबर अपराधी बच्चे के पीछे पड़ गए।

गेम के दौरान उन्होंने बच्चे से बात करना शुरू कर दिया। बच्चा मासूम था, उसने उन्हें अपना दोस्त समझ लिया। लूटेरो ने बच्चे से उसके पिता के बैंक अकाउंट की सारी डिटेल ले ली। उसके बाद उन्होंने बैंक से श्रीवास्तव जी का नंबर हटा कर अपना नंबर रजिस्टर कर दिया। ऐसा करने से श्रीवास्तव जी के मोबाइल पर अलर्ट मैसेज आने बंद हो गए। लूटेरो ने श्रीवास्तव जी के खाते से 8 लाख रूपये ट्रांसफर कर लिए।

घटना को अंजाम देने के बाद लूटेरो ने वापस श्रीवास्तव जी का नंबर बैंक अकाउंट के साथ रजिस्टर कर दिया। सब काण्ड होने के बाद श्रीवास्तव जी के पास बैंक की तरफ से एक मैसेज मिला जिसमे उनका बैंक बैलेंस भी लिखा हुआ था। अपना बैंक बैलेंस देख कर श्रीवास्तव जी सकते में आ गए। उन्होंने तुरंत बैंक जानें का निर्णय लिया। वो तुरंत स्टेट बैंक पहुंचे जहाँ उन्हें पता चला कि कुल 8 लाख रूपये उनके खाते से ट्रांसफर किये गए हैं।

श्रीवास्तव जी ने तुरंत पुलिस में शिकायत दर्ज की। अपराधियों के साथ साथ श्रीवास्तव जी ने बैंक कर्मचारियों के खिलाफ भी शिकायत दर्ज की। उन्होंने कहा कि इस लूट में बैंक के कर्मचारी भी शामिल है। बिना उनकी सहायता के ये लूट होना असंभव है। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। मामले पर कार्यवाही चल रही है।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here