दिल्ली के पटेल नगर में एक शख्स की चाक़ू से गोदकर हत्या |

क्या आपने कभी ऐसा सोचा हे की किसी इंसान को बुराई से बचाना आप ही के लिए मोत का सबब बन सकता हे ,जी हाँ एक ऐसी ही वारदात सामने आयी हे दिल्ली के एक इलाके से, जहां एक शख्स को कुछ शरारती तत्वों को शराब पीने से रोकना भारी पड़ गया और उसे अपनी जान गवानी पड़ी बात |

जी हाँ दोस्तों हम बात कर रहे एक ऐसे शख्स की जिसका नाम कृष्णा साहू बताया जा रहा हे जो रहते हैं दिल्ली के प्रेम नगर इलाके में | कृष्णा साहू एक बहुत ही अच्छे व्यक्ति हैं जो अपनी फॅमिली के साथ दिल्ली में रहते हैं ,उनकी फॅमिली में 2 बेटे और एक बेटी हैं जो की पास ही के स्कूल में पढ़ते हैं ,कृष्णा जी अपनी फॅमिली में अकेले ही कमाने वाले हैं | उन्ही की कमाई से उनका घर चलता था |



दिल्ली में रहने वाले कृष्णा साहू की बेरहमी से चाक़ू मार कर हत्या कर दी गयी,कृष्णा अपने बीवी बच्चों के साथ अपने घर में बैठे हुए थे, अचानक कुछ लोगों के चीखने चिल्लाने की आवाज़ पड़ोस के मकान की छत से सुनाई दी,साहू उसे देखने के लिए जब अपनी छत पर गए तो देखा कुछ लड़के मस्ती कर रहें हैं और शराब की बोतलें पास राखी हैं , कृष्णा ने उन्हें समझाने की कोशिश की लेकिन देखते ही देखते बात बिगड़ गयी और और उनके बीच कहा सुनी हो गयी |

बात जब बहुत आगे बढ़ गयी तो साहू के बेटे और मोहल्ले वाले भी बीच बचाओ के लिए आ गए लेकिन जो लड़के शराब पि रहे थे बाद में उनसे मार पीट हो गयी और अचानक उनमे से एक लड़के ने आकर कृष्णा साहू के पेट में चाकू घोंप दिया जिससे उनकी बाद में मोत हो गयी |

लेकिन क्या अच्छा आदमी होना गुनाह हे इस दुनिया में ?क्या आप दुनिया में फैली हुई बुराई को ख़तम करने का भी प्रयास नहीं कर सकते |

आज इस सच को सुनकर आप के अंदर की गैरत भी जाग जाएगी ,कुछ लोग अभी भी लॉक डाउन का पालन नहीं कर रहे हैं और इस गंभीर बीमारी के वक्त भी अपने पैसे को शराब में उड़ा रहें हैं ,जिस वक्त में लोगों के पास खाने को भी नहीं हैं ऐसे वक्त में कुछ लोग दूसरों की जानो से खेल रहें हैं |

अब सवाल ये हे की हमारी पुलिस कब उन मुजरिमों को पकड़ेगी ,और कब उन्हें सजा मिलेगी ?

Facebook Comments
Muzeeb Ansari:
Leave a Comment