तमिलनाडु में शराब की दुकाने खुलने के विरोध में प्रदर्शन, पुलिस के साथ हुई हाथापाई!

0
45

कोरोनावायरस के चलते समूचे भारत में लॉकडाउन जारी है। लम्बे समय से चल रहे लॉकडाउन का ये तीसरा चरण चल रहा है। पहले दो चरणों के मुकाबले में इस बार तीसरे चरण में सरकार द्वारा कुछ रियायते दी गयी हैं। इस बार पूरे भारत में लॉकडाउन के दौरान शराब की बिक्री की भी अनुमति दी गयी। तमिलनाडु में शराब की दुकाने खुलने के विरोध में प्रदर्शन चल रहा है। खबर है कि प्रदर्शनकारियो ने पुलिस के साथ हाथापाई भी की है।

जब से सरकार ने लॉकडाउन के दौरान शराब की बिक्री शुरू करवाने का निर्णय लिया है तब से ही तरह तरह के विवाद सामने आ रहे हैं। विपक्ष के साथ साथ केंद्र सरकार को सपोर्ट करने वाले लोग भी सरकार के इस निर्णय की आलोचना कर रहे हैं। तमिलनाडु के मदुरै में सीपीआई-एम कार्यकर्ता और कुछ अन्य लोग शराब के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे। इस प्रदर्शन में ज़्यादातर महिलाये शामिल थी। किसी बात को लेकर प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच कहा सुनी हो गयी। बात बढ़ते बढ़ते हाथापाई तक पहुँच गयी।

दरअसल एक व्यक्ति ने शराब बेचने के निर्णय को वापस लेने के लिए सरकार के खिलाफ मद्रास हाईकोर्ट में याचिका डाली थी। याचिका में कहा गया था कि कोरोना के इस दौर में शराब की दुकाने खोलना खतरनाक साबित हो सकता है। हाईकोर्ट ने मामले की सुनवाई करते हुए विशेष दिशानिर्देशों के साथ शराब बेचने की अनुमति दी थी। शराब पर पूर्ण प्रतिबन्ध लगाने की मांग को सरकार ने खारिज कर दिया था और शराब बेचने की अनुमति दे दी थी। ये फैसला आने के बाद ही ये विरोध प्रदर्शन शुरू हुआ था।

तमिलनाडु राज्य में कोरोना का संक्रमण बहुत ज़्यादा है। देश में संक्रमण के अनुसार तमिलनाडु चौथे नंबर पर है। तमिलनाडु में अब तक 6000 से ज़्यादा कोरोना संक्रमित पाए जा चुके हैं। 40 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं और 1605 लोग ठीक भी हुए हैं। तमिलनाडु में कोरोना बहुत तेज़ी से फैल रहा है।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here