लॉकडाउन के कारण UAE में फंसे भारतीयों को लेकर लौटे 2 विमान, 363 भारतीय घर पहुंचे!

कोरोनावायरस के कारण दुनिया के लगभग सभी देशों में लॉकडाउन की स्थिति है। हमारे भारत में भी लम्बे समय से लॉकडाउन चल रहा है। प्रधानमंत्री द्वारा अचानक लगाए लॉकडाउन के कारण बहुत से लोग अपने घरों से दूर फंस गए है। कुछ लोग अपने घर से दूर भारत में ही कहीं फंस गए तो कुछ लोग विदेशो में फंस गए है। भारत ने विदेशो में फंसे भारतीयों को वापस लाने का काम शुरू कर दिया है।

भारत में इसको ‘मिशन वंदे भारत’ का नाम दिया गया है। इस मिशन की शुरुआत भारत ने यूएई से की है। यूएई में फंसे भारतीयों को 2 विमानों में भर कर लाया गया है। यूएई के अबू धाबी और दुबई से एयर इंडिया एक्सप्रेस की 2 फ्लाइटें 363 भारतीयों को लेकर कोच्चि व कोझिकोड के एयरपोर्ट पर पहुंची है। उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह ने ट्वीट करके ये जानकारी दी है।

Mission Vande Bharat Full Details

नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बताया कि पहली फ्लाइट अबू धाबी से कोच्चि 177 यात्रियों को लेकर लौटी है। इन यात्रियों में 4 बच्चे भी शामिल है। दूसरी फ्लाइट दुबई से कोझिकोड एयरपोर्ट पर उतरी है। इस फ्लाइट में भी 177 यात्री है जिनमे 5 बच्चे भी शामिल है। इन सभी यात्रियों को घर जानें से पहले 14 दिन क्वारंटाइन में रहना होगा ताकि संक्रमण फैलने का खतरा न रहे।

लॉकडाउन के कारण विदेशो में फंसे भारतीयों की संख्या 1 लाख 93 हज़ार है। मिशन वंदे भारत का लक्ष्य इन सभी भारतीयों को वापस लाना है। सबसे ज़्यादा भारतीय नागरिक अमेरिका में फंसे हुए हैं। जल्दी ही अमेरिका से भी इन नागरिको को वापस लाने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। विदेशो के साथ ही भारत में अपने घरों से दूर फंसे गरीब मज़दूरों को भी ट्रेनों और बसों द्वारा उनके घर पहुँचाया जा रहा है। हालाँकि गरीब मज़दूरों को विदेश में फंसे अमीरो जैसी सुविधा नहीं मिल पाएगी।

Facebook Comments
Mohd Aarish:
Leave a Comment